झूठ बोलने के मामले में महिलाओं से भी आगे हैं पुरुष

Must Read

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की...

सतपुली कॉलेज से हुआ National Webinar, देशभर के लोगों ने रखे विचार

पौड़ी-गढ़वाल-राजकीय महाविद्यालय सतपुली तथा विद्या अभिकल्पन मनोवैज्ञानिक शोध संस्था हल्द्वानी के संयुक्त तत्वावधान में एक राष्ट्रीय वेबिनार PROBLEMS FACING...

नाला खुदाई के दौरान मिला 3 साल पहले MISSING युवक का कंकाल, AADHAR से हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के किशनी में उस वक्त सनसनी मच गई जब नाला निर्माण के लिए चल...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली । महिलाओं को झूठ बोलने में जो लोग माहिर समझते हैं, उनकी यह गलतफहमी इस खबर से दूर हो जाएगी। दरअसल पुरुषों ने इस मामले में महिलाओं को भी पीछे छोड़ दिया है। हाल ही में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक पुुरुष न सिर्फ झूठ बोलने में महिलाओं से आगे हैं, बल्कि खास बात यह है कि वे झूठ भी इतनी सफाई के साथ बोलते हैं कि उनकी पत्नियां तक उन्हें पकड़ नहीं पाती है। यही नहीं रिपोर्ट के मुताबिक झूठ बोलने वालों का एक बड़ा वर्ग है।
पोट्र्समाउथ यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार, झूठ बोलने में महारथी व्यक्ति एक अच्छा वक्ता होता है और वह दूसरों की तुलना में परिवार, दोस्तों, पार्टनर और सहयोगियों से अधिक झूठ बोलता है। अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि झूठ बोलने में माहिर शख्स मैसेज की जगह सामने बैठकर ज्यादा सफाई के साथ झूठ बोल सकता है। हालांकि सोशल मीडिया ऐसी जगह है जहां, पुरुष बहुत कम झूठ बोलते हैं।
पोट्र्समाउथ और नीदरलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ मैसटिक्ट की ब्रियन्ना वेरिजिन ने बताया ‘झूठ बोलने के मामले में विशेज्ञता और महिला-पुरुषों के बीच एक महत्वपूर्ण संबंध है। महिलाओं की तुलना में पुरुष खुद को दोगुना बेहतर झूठ बोलने वाला मानते हैं। पहले के अध्ययनों में बताया गया था कि अधिकांश व्यक्ति हर रोज एक से दो झूठ बोलते हैं, लेकिन यह पूरी तरह सही नहीं है। झूठ बोलने वालों का एक छोटा समूह है। पीएलओएस वन जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में कहा गया है कि लगभग आधे झूठ बोलने वालों की संख्या कम है और ये लोग अपने करीबियों से छुटकारा या उनसे माफी के लिए झूठ बोलते हैं।
वेरिजिन ने इस अध्ययन के लिए 39 वर्ष की औसत उम्र वाले 194 महिला-पुरुषों से सवाल-जवाब किए। उनसे कई तरह के सवाल पूछे गए, जिनमें यह भी पूछा गया कि वे दूसरों को धोखा देने के मामले में खुद को कितना बेहतर मानते हैं। अध्ययन में पता चला है कि झूठ बोलने वालों की सबसे अहम रणनीति होती है कि वे ऐसा झूठ बोलते हैं, जो सच के करीब हो। शोधकर्ताओं ने बताया कि लोगों को लगता है कि वह जितनी अच्छी तरह बोल सकता है, वह उतना ही अधिक झूठ बोलता है।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की...

सतपुली कॉलेज से हुआ National Webinar, देशभर के लोगों ने रखे विचार

पौड़ी-गढ़वाल-राजकीय महाविद्यालय सतपुली तथा विद्या अभिकल्पन मनोवैज्ञानिक शोध संस्था हल्द्वानी के संयुक्त तत्वावधान में एक राष्ट्रीय वेबिनार PROBLEMS FACING BY ADOLESCENTS DURING COVID-19 विषय...

नाला खुदाई के दौरान मिला 3 साल पहले MISSING युवक का कंकाल, AADHAR से हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के किशनी में उस वक्त सनसनी मच गई जब नाला निर्माण के लिए चल रही खुदाई के दौरान उसमें...

RBSE : राजस्थान में दसवीं व 12वीं की परीक्षा के लिए निर्देश जारी

  वैश्विक महामारी के चलते सरकार ने सभी १०वी और १२वी की परीक्षाओं को रद कर दिया था। राजस्थान बोर्ड ने 10 और 12 की...

June Festival 2020: जून में पड़ेगे ये बड़े त्योहार, देखें सूची

हम सब ही जानते हैं की हमारे हिन्दू धर्म मैं पुरे साल भर त्यौहार का ही दिन रहता है ,हम आपको बता दे की...
- Advertisement -