google का मानना वर्क फ्राम होम में कई तरह की चुनौतियों का करना पड़ेगा सामना

Must Read

करेला मन पट जाए गाने पर Amrapali लगा रहीं nirahua के साथ पर्दे पर आग, देखें वीडियो

भोजपुरी फिल्म अभिनेता दिनेश लाल निरहुआ और आम्रपाली दुबे (Amrapali dubey)के बीच पर्दे पर जुगलबंदी शानदार रहती है। उनकी...

सपना चौधरी के मूव्स का मच गया हल्ला, वीडियो हुआ वायरल

सपना चौधरी की नई वायरल वीडियो में वह अपने मूव्स को दिखाती नजर आई। लॉक डाउन के दौरान या...

कोरोना ने बदल दिया फिल्मों का रूप, अब इस तरह बनेंगी फिल्में और लागू होंगे ये नियम

कोरोना काल ने जहां सबकुछ बदल दिया है, वहीं फिल्मों की शूटिंग से लेकर अदाकारी का अंदाज भी बदलने...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

sundar pichai हमेशा घर से ही काम कर ले का विकल्प उचित नहीं है। वैश्विक महामारी के बीच दुनिया भर में आईटी कंपनियों से लेकर अन्य तमाम तरह की कंपनियां वर्क फ्रॉम होम वही भविष्य की रणनीति के रूप में देख रही है। इस बीच गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने इस रणनीति को कारगर नहीं माना है। उनका कहना है कि कुछ समय के लिए या विकल्प के तौर पर तो ठीक है लेकिन लंबे समय के लिए यह ठीक नहीं होगा। गूगल अल्फाबेट की मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने एक साक्षात्कार के दौरान का कि मौजूदा समय में कोरोनावायरस में वर्क फ्रॉम होम एक बेहतर विकल्प है, इसमें कोई संदेह नहीं है। लेकिन लंबे अरसे के लिए उचित नहीं होगा क्योंकि यह ज्यादा व्यावहारिक नहीं है।
पिचई ने साफ कहा कि उनके साथ ही कंपनी के कई कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं और इस साल तक के लिए तो वर्क फ्रॉम होम की रणनीति है, लेकिन उसके बाद कोरोना संबंधी स्थितियों पर निर्भर करेगा कि आगे किस योजना के तहत काम किया जाए। स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता है और इसे ध्यान में रखते हुए अभी वर्क फ्रॉम होम को तरजीह दी जा रही है। पिचई ने वर्क फ्रॉम होम को लेकर आशंका जताते हुए कहा कि जो लोग ऐसा करते रहे हैं, मैंने अक्सर उनसे सुना है कि घर से काम करने का मतलब घर से काम नहीं करना ही ज्यादा होता है। सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) के लिए यह मुश्किल है क्योंकि आप कैसे इसकी सीमाएं तय करेंगे? पिचई ने कहा कि साथ काम करने में जहां विचारों के आदान प्रदान में आसानी रहती है। वहीं एक काम के डिस्ट्रीब्यूशन से लेकर अन्य तरह की व्यवहारिक दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ता है। आमने-सामने काम करते रहने से एक-दूसरे से अपने विचार तुरंत साझा करते हैं वह घर से काम करने के माहौल में संभव नहीं है।
ट्विटर ने अपने सभी कर्मचारियों को हमेशा के लिए घर से काम करने की इजाजत दे दी। जबकि फेसबुक को उम्मीद है कि अगले पांच से दस साल में उसके 50 फीसदी कर्मचारी घर से काम कर रहे होंगे। वहीं भारतीय आईटी कंपनी टीसीएस ने हाल ही में कहा था कि वर्ष 2025 तक उसके 75 फीसदी कर्मचारी घर से काम कर रहे होंगे।

 

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

करेला मन पट जाए गाने पर Amrapali लगा रहीं nirahua के साथ पर्दे पर आग, देखें वीडियो

भोजपुरी फिल्म अभिनेता दिनेश लाल निरहुआ और आम्रपाली दुबे (Amrapali dubey)के बीच पर्दे पर जुगलबंदी शानदार रहती है। उनकी...

सपना चौधरी के मूव्स का मच गया हल्ला, वीडियो हुआ वायरल

सपना चौधरी की नई वायरल वीडियो में वह अपने मूव्स को दिखाती नजर आई। लॉक डाउन के दौरान या बाद वीडियो फैंस के बीच...

कोरोना ने बदल दिया फिल्मों का रूप, अब इस तरह बनेंगी फिल्में और लागू होंगे ये नियम

कोरोना काल ने जहां सबकुछ बदल दिया है, वहीं फिल्मों की शूटिंग से लेकर अदाकारी का अंदाज भी बदलने जा रहा है। यही नहीं...

Raktaanchal M: अभिनेता प्रकाश झा ने कहा विजय सिंह जैसा किरदार कभी नहीं निभाया

web series:एमएक्स प्लेयर ने अपनी आने वाली वेब सीरीज रक्तांचल जिसे रितम श्रीवास्तव ने निर्देशित किया है, का ट्रेलर जारी कर दिया है। जिसमें...

भीषण गर्मी से आपको बचाएगा विभिन्न मिश्रणों से बना तुलसी का यह काढ़ा

धार्मिक ग्रंथों में जहां एक ओर तुलसी को भगवान का दर्जा दिया गया हैतो वहीं  दूसरी ओर इसमें मौजूद चमत्कारी औषधीय गुण तुलसी की...
- Advertisement -