मेरे अंदर अभिनय का कीड़ा है, जिसे Patal lok में बाहर निकालने का मौका मिला : जगजीत सिंधू

Must Read

दादी के दम से चौंक गई दुनिया, कोबरा को पूँछ पकड़ कर फेंका

सोशल मीडिया पर वायरल हुई दादी की वीडियो को बहुत पसंद किया जा रहा है| 2 लाख से भी...

1 जून से बदल जाएंगे रेलवे, LPG, राशन कार्ड और विमान सेवा से जुड़े ये 5 नियम

जैसे की हम सभी जानते हैं की चौथा lockdown भी खत्म होने वाला है,और 31 मई को चौथा lockdown...

Mansoon 2020: 1 जून को भारत में दस्तक देगा मानसून, मौसम विभाग ने जताई संभावना

भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया है कि 1 जून को देश के केरल राज्य में दक्षिण...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

सुदीप शर्मा द्वारा निर्देशित सुपरहिट वेब सीरीज पाताल लोक में अभिनय करने वाले जगजीत सिंधू कहते हैं कि सीरीज में काम करके जहां काफी कुछ नया सीखने को मिला। वहीं इस सीरीज का हिस्सा होने की वजह से गर्व महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जयदीप अहलावत और नीरज काबी से वेब सीरीज पर काम करते वक्त काफी कुछ सीखा। जगजीत सिंधू ने बताया कि पंजाब से होने के कारण उनकी हिंदी ज्यादा अच्छी नहीं है। इसलिए वह हिंदी वेब सीरीज को लेकर थोड़ा चिंतित थे। लेकिन वह यह साबित करना चाहते थे कि जो अभिनेता कॉमेडी कर सकता है, वह कुछ भी कर सकता है। उन्होंने ये बातें इंडियन एक्सप्रेस समाचार पत्र को दिए साक्षात्कार में कही हैं।

वह कहते हैं कि उन्होंने पाताल लोक सीरीज में बहुत ज्यादा मेहनत की थी, अब जबकि उसे सफलता मिल रही है तो बेहद खुशी हो रही है। वह कहते हैं कि उन्होंने खुद यह उम्मीद नहीं की थी कि सीरीज को इतना पसंद किया जाएगा और पहले हफ्ते में ही सीरीज चर्चा में आ जाएगी। उस समय बहुत अच्छा लगता है जब कोई आपकी मेहनत सराहता है। उन्होंने कहा कि उनके अंदर अभिनय का कीड़ा है, जिसे दिखाने का पाताल लोक में उन्हें पूरा मौका मिला है। उन्होंने बताय कि जब वह पहली पहली बार सेट पर गए थे। तो उन्होंने हर किसी को स्क्रिप्ट के बारे में बात करते हुए देखा। दरअसल स्क्रिप्ट इतने शानदार तरीके से लिखी गई थी, कि जिसने भी पढ़ा वह चर्चा किए बिना रह ही नहीं सका। सच्चाई यह भी है कि एक कलाकार तब तक किसी किरदार के साथ न्याय नहीं कर सकता है, जब तक उसे अच्छी तरह से लिखा नहीं गया होगा। लेखक की यही काबिलियत होती है कि किरदार ऐसा गढ़े कि जब कोई उसे करे तो इतना डूब जाए कि उससे बाहर निकलने में ही उसे लंबा समय लग जाए। हालांकि, नए किरदार के लिए हर अभिनेता को पुराने से बाहर तो निकलना ही होता है।

छोटे शहर में भी किया जा सकता है बेहतर काम
वेब सीरीज आपका परिचय वास्तविकता से कराती है। उदाहरण के तौर पर, पाताल लोक में पंजाब और चित्रकूट के अभिनेताओं को अपने ही शहर और कस्बे में स्थानों को चित्रित करने का काम मिला । ऐसे में आज यह संभव हो गया है कि छोटे शहर के लोग मुंबई न आकर भी एक अच्छा काम पा सकते है। जरूरत है तो बस अच्छे अभिनय की। अगर आप में प्रतिभा है तो छोटे शहर में रहकर भी इतना बेहतर कार्य कर सकते हैं, कि हर कोई देखता रह जाए।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

दादी के दम से चौंक गई दुनिया, कोबरा को पूँछ पकड़ कर फेंका

सोशल मीडिया पर वायरल हुई दादी की वीडियो को बहुत पसंद किया जा रहा है| 2 लाख से भी...

1 जून से बदल जाएंगे रेलवे, LPG, राशन कार्ड और विमान सेवा से जुड़े ये 5 नियम

जैसे की हम सभी जानते हैं की चौथा lockdown भी खत्म होने वाला है,और 31 मई को चौथा lockdown भी खत्म हो जायेगा। ये...

Mansoon 2020: 1 जून को भारत में दस्तक देगा मानसून, मौसम विभाग ने जताई संभावना

भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया है कि 1 जून को देश के केरल राज्य में दक्षिण पश्चिम दिशा से मानसून दस्तक...

आखिर सड़क के बीच कार्तिक आर्यन ने क्यों बदले कपड़े?

लॉक डाउन के दौरान भी कार्तिक अपने फंस से जुड़े हुए हैं| सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीरों और वीडियो को डालकर वह सुर्खियों में...

अमिताभ बच्चन न अब दान की 20 हजार पीपीई किट, प्रवासियों को भी बसों से किया रवाना

कोरोना वायरस से जंग लड़ रहे देश की साथ बॉलीवुड के कई कलाकार खड़े हो गए हैं । इनमें अक्षय कुमार सोनू सूद सलमान...
- Advertisement -