Uttrakhand president की कुर्सी के लिए इस नेता ने अमित शाह के खेमें में घुसपैठ

Must Read

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे।...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली । उत्तराखंउ भाजपा अध्यक्ष पद को लेकर सियासी रस्साकशी इन दिनों चरम पर पहुंच गई है। दिग्गज भाजपा नेताओं ने अध्यक्ष पद की कुर्सी हथियाने के लिए  अब दिल्ली के गलियारों में फैली अपनी जड़ों को टटोलना शुरू कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक कई नेता तो अमित शाह के करीबी माने जाने वाले नेताओं के माध्यम से अपनी दावेदारी मजबूत  करने में भी जुटे हुए हैं। हालांकि राज्य की हालात को देखते हुए अध्यक्ष पद की कुर्सी कुमाऊं परिक्षेत्र के ही किसी नेता को मिलने की अटकलें  लगाई जा रही हैं। ऐसे में इन दिनों भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के आवास के आसपास कुमाऊं के नेता ज्यादा सक्रिय दिखाई दे रहे हैं।

सूत्रों के मुताबिक कुमाऊं से अजय भट्ट अध्यक्ष पद की दावेदारी को लेकर एक बार फिर जोर आजामइश् कर रहे हैं, हालंाकि गढ़वाल के नेता उनकी इस दावेदारी को यह कहकर खारिज कर रहे हैं कि मौजूदा समय में सांसद होने के साथ ही पिछले कई साल से वह अध्यक्ष भी हैं। ऐसे में यह पद अब किसी और को दिया जाना चाहिए। दरअसल मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत गढ़वाल क्षेत्र से आते हैं, ऐसे में भाजपा नेता अब अध्यक्ष पद कुमायूं के किसी नेता को दिए जाने की दलील दे रहे हैं। नैनीताल जिले की लालकुआं सीट से विधायक नवीन चंद्र दुम्का को भी अध्यक्ष पद की होड़ में आगे बताया जा रहा है। इनके अलावा पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष व दायित्वधारी केदार जोशी, नैनीताल जिले की कालाढूंगी  सीट के विधायक व पूर्व मंत्री बंशीधर भगत और पूर्व प्रदेश मंत्री कैलाश पंत भी दावेदारी कर रहे हैं। अजय भट्ट के अलावा नवीन दुम्का, केदार जोशी, कैलाश पंत और बशीधर भगत की दावेदारी से अध्यक्ष पद की कुर्सी के लिए लड़ाई दिलचस्प मोड़ पर पहुंच गई है। सूत्रों के मुताबिक उत्तराखंड भाजपा के एक वरिष्ठ नेता इन दिनों लालकुआं से विधायक नवीन दुम्का के लिए पैरवी कर रहे हैं। वहीं अजय भट्ट सांसद होने के साथ ही भाजपा के राष्ट्रीय संगठन में शामिल एक वरिष्ठ नेता के संपर्क में बताए जा रहे हैं। दरअसल, अमित शाह की टीम में होने की वजह से यह नेता उनके बेहद करीबी भी हो गए हैं। इधर धन सिंह रावत और राजेंद्र भंडारी ने भी दिल्ली के नेताओं से संपर्क साधा है। हालांकि, सूत्र बताते हैं कि पार्टी राज्य की बागडोर जातीय और क्षेत्रीय संतुलन के आधार पर ही किसी नेता को सौंपेगी। इस लिहाज से देखा जाए तो कुमायूं के किसी ब्राह्मण नेता को यह पद मिल सकता है। हालांकि रायशुमारी के लिए भाजपा के दो वरिष्ठ नेताओं को उत्तराखंड भेजा जा रहा है, जो कुमाऊं और गढ़वाल के नेताओं से अलग-अलग बात करके सर्वमान्य अध्यक्ष का नाम तय करेंगे।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे। यह सुविधा अगले सप्ताह से...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की के पिता ने ही दोनों...

सतपुली कॉलेज से हुआ National Webinar, देशभर के लोगों ने रखे विचार

पौड़ी-गढ़वाल-राजकीय महाविद्यालय सतपुली तथा विद्या अभिकल्पन मनोवैज्ञानिक शोध संस्था हल्द्वानी के संयुक्त तत्वावधान में एक राष्ट्रीय वेबिनार PROBLEMS FACING BY ADOLESCENTS DURING COVID-19 विषय...

नाला खुदाई के दौरान मिला 3 साल पहले MISSING युवक का कंकाल, AADHAR से हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के किशनी में उस वक्त सनसनी मच गई जब नाला निर्माण के लिए चल रही खुदाई के दौरान उसमें...
- Advertisement -