उन्नाव।बंद पड़ी इमारत में चल रहा है मादक पदार्थों का व्यापार।

0
43

           ब्यूरो रिपोर्ट प्रदीप कुमार तिवारी।
शुक्लागंज। शुक्लागंज  में विगत दिनों नशेबाजी का अड्डा जिस का संचालन स्वयं ऋषि नगर निवासी  रेलवे केविन के निकट गुमटी रख के गांजा चरस O C B  पेपर आदि मादक पदार्थ शुक्लागंज के नवयुवकों से अच्छी कमाई वसूलता था शासन-प्रशासन के खौफ से गुमटी संचालक ने गुमटी तो अपने घर के पास रख ली परंतु नवयुवकों की पसंदीदा सामान आज भी बेचना बंद नहीं किया जहां भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार बेरोजगारों को रोजगार प्रदान करने में सहायता प्रदान कर रही है वही ऋषि नगर से लेकर अंबिका पुरम रामकली स्टेडियम के निकट बनी पुरानी पीली बिल्डिंग खंडहर तक नशे का कारोबार फैला हुआ है जिसमें कई नाबालिक और बालिक युवक बुरी तरह से मौत के करीब ले जाने वाले नसों का सेवन करते सुबह शाम दोपहर कभी भी नजर आ सकते हैं इसी नशे की वजह से शुक्लागंज में चोरी चेन स्नेचिंग आदि में भारी मात्रा में इजाफा हुआ है शासन और प्रशासन से दरख्वास्त है जो नशे का कारोबार असलियत में कर रहे हैं वह अभी भी प्रशासन की नजरों में धूल झोंक रहे हैं कई सफेदपोश नेताओं की में आड़ मे बच जाते हैंअंबिकापुर में स्थित पीली बिल्डिंग खंडहर की तरफ ना तो पुलिस गस्त करती है ना ही ऋषि नगर केबिन के पास गस्त करती है कप्तान साहब खबर पर ध्यान दें अपने आप गुमटी संचालक बताएगा कि गांजा चरस कहां से और कैसे उपलब्ध होता है प्रशासनिक अधिकारी श्री स्वतंत्र सिंह जीने अभी तक सभी गुड वर्क किए हैं।देखते हैं पुलिस प्रशासन गांजा चरस मादक पदार्थ पीने वाले युवकों को पकड़ कर उनसे मादक पदार्थ बेचने वालों के नाम पता पूछ पाएगी।

और पढ़ें:   लक्ष्य सेवा समिति द्वारा आयोजित किया गया नि:शुल्क योग शिविर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here