अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर ईरान ने किया हमला, 80 सैनिकों को ढेर करने का दावा

Must Read

करीना कपूर, रणबीर कपूर, करण जौहर बॉलीवुड की ‘गॉसिप गर्ल्स’ हैं, अनन्या पांडे का खुलासा

जैसे की हम सभी जानते हैं की देश मैं अभी कोरोना काल चल रहा है इस कोरोना काल के...

अर्जुन कपूर हेरा फेरी में रणवीर सिंह के साथ अभिनय करना चाहते हैं

आपको तो पता होगा की रणबीर सिंह और अर्जुन कपूर बॉलीवुड मैं बोहोत अच्छे दोस्त माने जाते हैं। इस...

मुजफ्फरपुर स्टेशन के जिस बच्चे का वीडियो वायरल हुआ था, शाहरुख करेंगे उसकी मदद

जैसे की हम सभी जानते हैं की इस समय पूरा देश कोरोना नामक वैश्विक बीमारी से जूझ रहा है...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली । ईनानी कमांडर की मौत का बदला लेने के लिए ईरान ने अमेरिकी सैन्य ठिकानों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। बुधवार की सुबह 22 बैलिस्टक मिसाइलों से अमेरिकी बेस कैंपों केनिशाना बनाया गया। इसमें करीब 80 सैनिकों के मारे जाने की खबर है। हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति ने हमले में किसी भी सैनिक के मारे जाने इन्कार किया है। साथ ही ट्रंप ने ईरान के नरम होते रुख की सराहना भी की है। दोनों पक्षों के बयानों से खाड़ी में युद्ध की आशंका पर विराम लगता दिख रहा है। इसका असर कच्चे तेल की कीमतों पर भी दिखा। ट्रंप के संबोधन के तुरंत बाद न्यूयॉर्क में तेल की कीमतें 4.6 फीसद तक टूट गईं।
अमेरिका ने बगदाद हवाई अड्डे के बाहर शुक्रवार को ईरान के शीर्ष कमांडर कासिम सुलेमानी को ड्रोन हमले में मार गिराया था। तभी से बदला लेने की बात कर रहे ईरान ने बुधवार को बदला पूरा होने का दावा किया। वहीं, इराक की सेना ने कहा कि उसके यहां दो सैन्य बेस को 22 मिसाइलों से निशाना बनाया गया, जहां अमेरिकी सैनिक ठहरे थे। हमलों में इराक का सैनिक घायल नहीं हुआ है। वहीं, ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्ला अली खामेनेई ने मिसाइल हमलों को अमेरिका के गाल पर तमाचा बताया है। कहा, ‘बदला अपनी जगह है, लेकिन अभी बड़ी घटना हुई है। ऐसी सैन्य गतिविधियां पर्याप्त नहीं हैं। यह क्षेत्र अमेरिका की मौजूदगी नहीं सहेगा।Ó
इराक के पीएम कार्यालय की ओर से बताया गया, ‘हमें ईरान की तरफ से संदेश मिला था कि जल्द हमले होंगे। हमले वहीं केंद्रित रहेंगे, जहां अमेरिकी सैनिक हैं। हालांकि, जगह नहीं बताई गई थी।Ó वहीं, इराक के पैरामिलिट्री नेटवर्क हशद अल-शाबी के शीर्ष कमांडर कैस अल-काजली ने कहा, अमेरिकी ड्रोन हमलों के जवाब में इराक के प्रतिवाद का भी यही समय है। यह हमला ईरान के हमले से कम न हो।
हमले के कुछ घंटे बाद अमेरिकी समयानुसार बुधवार सुबह डोनाल्ड ट्रंप ने सभी अमेरिकी सैनिकों के सुरक्षित होने की बात कही और ईरान पर नए आर्थिक प्रतिबंधों का एलान भी किया। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका को अपनी सैन्य ताकत के इस्तेमाल की जरूरत नहीं है। उसके आर्थिक प्रतिबंध ही ईरान से निपटने के लिए काफी हैं।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

करीना कपूर, रणबीर कपूर, करण जौहर बॉलीवुड की ‘गॉसिप गर्ल्स’ हैं, अनन्या पांडे का खुलासा

जैसे की हम सभी जानते हैं की देश मैं अभी कोरोना काल चल रहा है इस कोरोना काल के...

अर्जुन कपूर हेरा फेरी में रणवीर सिंह के साथ अभिनय करना चाहते हैं

आपको तो पता होगा की रणबीर सिंह और अर्जुन कपूर बॉलीवुड मैं बोहोत अच्छे दोस्त माने जाते हैं। इस भाग-दौड़ भरी और व्यस्त ज़िन्दगी...

मुजफ्फरपुर स्टेशन के जिस बच्चे का वीडियो वायरल हुआ था, शाहरुख करेंगे उसकी मदद

जैसे की हम सभी जानते हैं की इस समय पूरा देश कोरोना नामक वैश्विक बीमारी से जूझ रहा है और वहीँ दूसरी और कई...

Happy Marriage Anniversary अमिताभ ने खोला राज बोले, इसलिए करनी पड़ी थी फटाफट शादी

  Happy Marriage Anniversary : सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की शादी को 47 साल पूरे हो गए हैं । 3 जून 1973 को...

आदेश गुप्ता के गुरसाहयगंज से दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष तक के सफर की यह है पूरी कहानी

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी आखिर व्यापारी वर्ग के रीड कहे जाने वाले दिल्ली के पूर्व महापौर आदेश गुप्ता...
- Advertisement -