15 साल की jyoti ने साइकिल से पिता को पहुंचाया गुरुग्राम से दरभंगा, साइक्लिंग फेडरेशन करेगी ट्रेंड

Must Read

करेला मन पट जाए गाने पर Amrapali लगा रहीं nirahua के साथ पर्दे पर आग, देखें वीडियो

भोजपुरी फिल्म अभिनेता दिनेश लाल निरहुआ और आम्रपाली दुबे (Amrapali dubey)के बीच पर्दे पर जुगलबंदी शानदार रहती है। उनकी...

सपना चौधरी के मूव्स का मच गया हल्ला, वीडियो हुआ वायरल

सपना चौधरी की नई वायरल वीडियो में वह अपने मूव्स को दिखाती नजर आई। लॉक डाउन के दौरान या...

कोरोना ने बदल दिया फिल्मों का रूप, अब इस तरह बनेंगी फिल्में और लागू होंगे ये नियम

कोरोना काल ने जहां सबकुछ बदल दिया है, वहीं फिल्मों की शूटिंग से लेकर अदाकारी का अंदाज भी बदलने...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली । कहते हैं कि जब खतरा जान का होता है तो शरीर में ताकत दोगुनी हो जाती है। ऐसा ही कुछ जज्बा और जुनून देखने को मिला है बिहार की15 वर्षीय बालिका ज्योति कुमारी में जिसने लॉकडाउन के दौरान आर्थिक तंगी और बीमारी से जूझ रहे अपने पिता को साइकिल पर बैठाकर 1200 किलोमीटर की यात्रा तय की और उन्हें बिहार के दरभंगा तक पहुंचाया। ज्योति के जज्बे को देखते हुए साइक्लिंग फेडरेशन ने उन्हें ट्रायल के लिए चुना है। यदि ट्रायल में ज्योति सफल रहती हैं तो उन्हें ओलंपिक के लिए तैयार किया जाएगा। साइकिलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के चेयरमैन ओंकारनाथ ने कहा है कि यदि ज्योति में टैलेंट हैं तो उसे आगे बढऩे से कोई नहीं रोक सकता है। उन्होंने कहा कि फेडरेशन उसका ट्रायल करेगी और यदि वह कुछ मानकों पर भी वह खरी उतरती है तो उसे ट्रेनिंग देकर ओलंपिक के लिए तैयार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ज्योति को इंदिरा गांधी स्टेडियम कंपलेक्स स्थित स्टेट ऑफ द आर्ट नेशनल साइकिलिंग एकेडमी में दाखिला दिया जाएगा। यह संस्था स्पोट्र्स अथॉरिटी आफ इंडिया के मार्गदर्शन में कार्य करती है और यह देश की सबसे बेहतरीन सुविधाओं वाली एक अकादमी है। जिसे वैश्विक संस्था एशियाई फेडरेशन ने भी मान्यता दी हुई है। ओंकार सिंह जब पूछा गया कि आखिर उन्होंने ज्योति को यह मौका देने के विषय में क्यों सोचा इस पर उनका कहना था कि बिहार की इस बेटी में कुछ तो खास है। आखिर कोई अपने पिता को बैठाकर यूं ही १२०० किलोमीटर साइकिल नहीं चला सकता है। इसके लिए एक जुनून जज्बा और हिम्मत के साथ ही शारीरिक मजबूती की भी जरूरत पड़ती है, जो ज्योति ने यह कर दिखाया है। ऐसे में उसे एक मौका दिए जाने में कोई हर्ज नहीं है।
लॉकडाउन से पहले ज्योति के पिता मोहन पासवान गुरुग्राम में रहते थे और वही रिक्शा चलाकर अपने परिवार का पेट पाल रहे थे। इस बीच कुछ दिन पहले उनको चोट लग गई, जिसके बाद वह रिक्शा चलाने में असमर्थ हो गए। इधर कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन हो गया। इसकी वजह से परिवार के अन्य सदस्य जो कमा कर ला रहे थे वह भी बंद हो गया नतीजतन परिवार आर्थिक तंगी का शिकार हो गया। इधर मकान मालिक लगातार मोहन पासवान पर किराया देने का दबाव बना रहा था, जिसकी वजह से परेशान होकर ज्योति ने पिता से कहा कि चलो हम लोग साइकिल से ही चलते हैं। वायरल हो रहे वीडियो में मोहन पासवान कह रहे हैं कि पहले तो उन्होंने बेटी को यह कहते हुए मना किया कि आखिर1200 किलोमीटर साइकिल चला कर बेटी तुम कैसे ले चलोगर और मेरा वजन भी ज्यादा है लेकिन ज्योति ने हिम्मत नहीं हारी और उसने कहा कि नहीं हम आपको लेकर चलेंगे जहां थक जाएंगे वहां आराम कर लेंगे और फिर कुछ दूर पैदल भी चलेंगे दोनों इस तरह धीरे-धीरे कुछ ना कुछ दिनों में पहुंची ही जाएंगे। यहां रहने से अच्छा तो है कि हम धीरे-धीरे अपना सफर तय करें आखिर एक दिन तो मंजिल मिल ही जाएगी। इसके बाद पिता पुत्र साइकिल से ही चल दिए और एक सप्ताह में अपने घर पहुंच गए। इस बीच रास्ते में जो गांव व कस्बे पड़े वहां लोगों की मदद से भोजन मिलता रहा, यदि कोई गांव नहीं मिला तो भूखे पेट ही उसने साइकिल चलाना जारी रखा।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

करेला मन पट जाए गाने पर Amrapali लगा रहीं nirahua के साथ पर्दे पर आग, देखें वीडियो

भोजपुरी फिल्म अभिनेता दिनेश लाल निरहुआ और आम्रपाली दुबे (Amrapali dubey)के बीच पर्दे पर जुगलबंदी शानदार रहती है। उनकी...

सपना चौधरी के मूव्स का मच गया हल्ला, वीडियो हुआ वायरल

सपना चौधरी की नई वायरल वीडियो में वह अपने मूव्स को दिखाती नजर आई। लॉक डाउन के दौरान या बाद वीडियो फैंस के बीच...

कोरोना ने बदल दिया फिल्मों का रूप, अब इस तरह बनेंगी फिल्में और लागू होंगे ये नियम

कोरोना काल ने जहां सबकुछ बदल दिया है, वहीं फिल्मों की शूटिंग से लेकर अदाकारी का अंदाज भी बदलने जा रहा है। यही नहीं...

Raktaanchal M: अभिनेता प्रकाश झा ने कहा विजय सिंह जैसा किरदार कभी नहीं निभाया

web series:एमएक्स प्लेयर ने अपनी आने वाली वेब सीरीज रक्तांचल जिसे रितम श्रीवास्तव ने निर्देशित किया है, का ट्रेलर जारी कर दिया है। जिसमें...

भीषण गर्मी से आपको बचाएगा विभिन्न मिश्रणों से बना तुलसी का यह काढ़ा

धार्मिक ग्रंथों में जहां एक ओर तुलसी को भगवान का दर्जा दिया गया हैतो वहीं  दूसरी ओर इसमें मौजूद चमत्कारी औषधीय गुण तुलसी की...
- Advertisement -