VAT SAVITRI VRAT: बरगद के पेड़ मे वास करते हैं विष्णु, ये है पूजा का शुभ समय

Must Read

करीना कपूर, रणबीर कपूर, करण जौहर बॉलीवुड की ‘गॉसिप गर्ल्स’ हैं, अनन्या पांडे का खुलासा

जैसे की हम सभी जानते हैं की देश मैं अभी कोरोना काल चल रहा है इस कोरोना काल के...

अर्जुन कपूर हेरा फेरी में रणवीर सिंह के साथ अभिनय करना चाहते हैं

आपको तो पता होगा की रणबीर सिंह और अर्जुन कपूर बॉलीवुड मैं बोहोत अच्छे दोस्त माने जाते हैं। इस...

मुजफ्फरपुर स्टेशन के जिस बच्चे का वीडियो वायरल हुआ था, शाहरुख करेंगे उसकी मदद

जैसे की हम सभी जानते हैं की इस समय पूरा देश कोरोना नामक वैश्विक बीमारी से जूझ रहा है...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

तंह पुनि संभु समुझिपन आसन।

बैठे वटतर, करि कमलासन।।

VAT SAVITRI VRAT : रामचरित मानस के इस श्लोक के अनुसार बरगद के पेड़ में साधुओं औऱ देवताओं ने भगवान विष्णु की उपस्थिति के दर्शन किए है। प्रारंभ से ही वृक्षों की पूजा हमारी संस्कृति का एक अभिन्न हिस्सा रहीं है। चाहे पर्य़ावरण की दृष्टि से हो या धार्मिक तौर पर, हर पेड़-पौधे की अपनी अलग उपयोगिता और महत्ता है। लेकिन वृक्षों में खासकर पीपल और बरगद की पूजा की जाती है। एक ओर जहां पीपल के पेड़ में भगवान विष्णु वास करते है तो वहीं बरगद के पेड़ की छाल में भगवान विष्णु, जड़ में ब्रह्मा और शाखाओं में शिवजी का वास माना जाता है। इसलिए वट सावित्री व्रत में सुहागिन महिलाओं द्वारा बरगद के पेड़ की पूजा विधि-विधान से की जाती है। ऐसा करने से उनको अंखड सौभाग्य औऱ सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।

वट सावित्री व्रत की कथा

ज्येष्ट मास की अमावस्या के दिन वट सावित्री का व्रत रखा जाता है। हिंदू पंचाग के अनुसार इस बार यह व्रत 22 मई यानि कल सुहागिन महिलाओं द्वारा रखा जाएगा। जानकारी के लिए बता दें कि अमावस्या तिथि 21 मई को रात्रि 9:35 से प्रांरभ होकर 22 मई 2020 को रात्रि 11:08 तक रहेगी। कहते है कि ज्येष्ट अमावस्या के दिन सावित्री ने यमराज से अपने पति सत्यवान के प्राण वापस मांगे थे। जिस पर यमराज ने सावित्री से प्रसन्न होकर सत्यवान को जीवित कर दिया था। तब से भारतीय महिलाएं वट सावित्री का व्रत अपने पति की दीर्घायु के लिए रखती है। संयोग की बात है कि इसी दिन शनि महाराज का जन्म हुआ है इसलिए इस अमावस्या को शानि जयंती भी कहा जाता है।

वट सावित्री व्रत पर कैसे करें पूजा

इस दिन खासकर महिलाएं पूजा करती हैं जबकि पुरूषों को भी इस दिन बरगद के पेड़ की पूजा करनी चाहिए इससे उनके वंश में वृद्घि होती है। वट सावित्री के पूजन में महिलाओं द्वारा चना पूजन का नियम है। वहीं इस दिन महिलाओं को सवेरे जल्दी स्नान करके पूजन श्रृंगार करना चाहिए। साथ ही व्रत की थाली में प्रसाद (गुड़, भीगा चना, आटे से बनी मिठाई, कुमकुम, रोली, मौली, फल, पान का पत्ता, धूप, घी का दीया) और एक लोटे में जल व एक हाथ का पंखा लेकर बरगद के पेड़ के पास बैठना चाहिए। इसके बाद सबसे पहले बरगद के पेड़ की जड़ पर जल चढ़ाना चाहिए और फिर दीपक जलाने के बाद पेड़ के चारों ओर परिक्रमा करनी चाहिए। साथ ही कच्चे धागे और मौली धागे को 7 बार बरगद के पेड़ से बंधना चाहिए। तत्पश्चात् पति के पैर धोकर आशीर्वाद लेना चाहिए।

बरगद के पेड़ का महत्व

बरगद भारत का राष्ट्रीय पेड़ है। आपको बता दें कि बरगद के पेड़ को ही वटवृक्ष भी कहा जाता है। एक ओर इस पेड़ का धार्मिक महत्त्व है तो वहीं यह कई प्रकार के रोगों के उपचार में भी काम आता है। वहीं यह पेड़ लंबे समय तक अक्षय रहता है, इसलिए इसे ‘अक्षयवट’ भी कहा जाता हैं। आपको बता दें कि अक्षयवट के पत्ते पर ही भगवान श्रीकृष्ण ने प्रलय के अंत में मार्कण्डेय को दर्शन दिए थे और प्रयाग में गंगा के तट पर स्थि‍त अक्षयवट को तुलसीदासजी ने ‘तीर्थराज का छत्र’ कहा है। जहां एक तरफ सनातन धर्म में बरगद का पेड़ वट-सावित्री व्रत को समर्पित है तो वहीं इसके चार प्रकार अक्षयवट, पंचवट, वंशीवट, गयावट और सिद्धवट जिनकी प्राचीनता के विषय में कोई नहीं जानता है।

 

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

करीना कपूर, रणबीर कपूर, करण जौहर बॉलीवुड की ‘गॉसिप गर्ल्स’ हैं, अनन्या पांडे का खुलासा

जैसे की हम सभी जानते हैं की देश मैं अभी कोरोना काल चल रहा है इस कोरोना काल के...

अर्जुन कपूर हेरा फेरी में रणवीर सिंह के साथ अभिनय करना चाहते हैं

आपको तो पता होगा की रणबीर सिंह और अर्जुन कपूर बॉलीवुड मैं बोहोत अच्छे दोस्त माने जाते हैं। इस भाग-दौड़ भरी और व्यस्त ज़िन्दगी...

मुजफ्फरपुर स्टेशन के जिस बच्चे का वीडियो वायरल हुआ था, शाहरुख करेंगे उसकी मदद

जैसे की हम सभी जानते हैं की इस समय पूरा देश कोरोना नामक वैश्विक बीमारी से जूझ रहा है और वहीँ दूसरी और कई...

Happy Marriage Anniversary अमिताभ ने खोला राज बोले, इसलिए करनी पड़ी थी फटाफट शादी

  Happy Marriage Anniversary : सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की शादी को 47 साल पूरे हो गए हैं । 3 जून 1973 को...

आदेश गुप्ता के गुरसाहयगंज से दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष तक के सफर की यह है पूरी कहानी

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी आखिर व्यापारी वर्ग के रीड कहे जाने वाले दिल्ली के पूर्व महापौर आदेश गुप्ता...
- Advertisement -