अपरा एकादशी पर विष्णु और लक्ष्मी की करें पूजा, मिलेगा यह लाभ

Must Read

करीना कपूर, रणबीर कपूर, करण जौहर बॉलीवुड की ‘गॉसिप गर्ल्स’ हैं, अनन्या पांडे का खुलासा

जैसे की हम सभी जानते हैं की देश मैं अभी कोरोना काल चल रहा है इस कोरोना काल के...

अर्जुन कपूर हेरा फेरी में रणवीर सिंह के साथ अभिनय करना चाहते हैं

आपको तो पता होगा की रणबीर सिंह और अर्जुन कपूर बॉलीवुड मैं बोहोत अच्छे दोस्त माने जाते हैं। इस...

मुजफ्फरपुर स्टेशन के जिस बच्चे का वीडियो वायरल हुआ था, शाहरुख करेंगे उसकी मदद

जैसे की हम सभी जानते हैं की इस समय पूरा देश कोरोना नामक वैश्विक बीमारी से जूझ रहा है...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

 

Apara Ekadashi हिन्दू पंचांग के अनुसार हर वर्ष ज्येष्ठ माह में कृष्णपक्ष के दिन अपरा एकादशी मनाई जाती है। जिसे अचला एकादशी, भद्रकाली एकादशी और जलक्रीड़ा एकादशी भी कहते हैं, वैसे तो वर्ष में कुल 24 एकादशियां होती हैं लेकिन ज्योतिषशास्त्र की मानें तो शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली एकादशियों का अपना अलग ही महत्व है। ऐसे में अपरा एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन जो भी व्यक्ति विधि-विधान से भगवान विष्णु की आराधना करता है उसको जन्म-मृत्यु के चक्र से छुटकारा मिल जाता है वहीं कुछ ऐसे कार्य भी हैं जिनको इस दिन करना गलत माना जाता है। आइए जानते है कि इस दिन क्या करने से माता लक्ष्मी आएंगी आपके घर………………

एकादशी का महत्व

सनातन धर्म की मान्यता के अनुसार इस दिन व्रत रखने से भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। ऐसा भी कहा जाता है कि मकर संक्रांति के समय गंगा-स्नान, सूर्यग्रहण के समय कुरुक्षेत्र और शिवरात्रि के समय काशी में गंगा-स्नान करने से जो पुण्य मिलता है, वह पुण्य मात्र अपरा एकादशी का व्रत विधि-विधान से रखने पर प्राप्त हो जाता है।

एकादशी की कहानी

मान्यता है कि पुराने समय में महीध्वज नाम का एक धर्मात्मा राजा था। उसका छोटा भाई वज्रध्वज बड़े भाई की लोकप्रियता से चिढ़ता था. एक दिन उसने अवसर पाते ही अपने बड़े भाई महीध्वज की हत्या कर उसका शव जंगल में एक पीपल के नीचे दफना दिया। लेकिन कहा जाता है कि अकाल मृत्यु के कारण राजा की आत्मा प्रेत बनकर पीपल के वृक्ष पर रहने लगी और वह उस मार्ग पर आने-जाने वाले को परेशान किया करती थी। एक दिन उसी रास्ते से एक ऋषि गुजर रहे थे, उन्होंने अपने तपोबल से महीध्वज की प्रेत को देखा और उसके प्रेत बनने का कारण पूछा तब राजा की बात सुनकर ऋषि ने उसकी आत्मा को पेड़ से नीचे उतारा और परलोक विद्या का उपदेश दिया और महीध्वज को प्रेत योनि से मुक्ति दिलाने के लिए स्वयं अपरा एकादशी का व्रत रखा। जिसका पुण्य प्राप्त करके महीध्वज प्रेत योनि से मुक्त होकर बैकुंठधाम चला गया। राजा की आत्मा को जन्म-मरण के इस बंधन से छुटकारा मिलते ही इस एकादशी का महत्व बढ़ गया और तबसे हमारे पूर्वज अपरा एकादशी का व्रत रखने लगे।

इस दिन क्या करें और क्या नहीं

1. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन चावल का सेवन करने से मनुष्य को अगले जन्म में रेंगने वाले जीव की योनि में जन्म मिलता है।
2. एकादशी वाले दिन मांस-मदिरा जैसी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए अन्यथा उन्हें नर्क में यातनाएं झेलनी पड़ती है।
3. अपरा एकादशी के दिन दान का विशेष महत्व होता है।
4. एकादशी के दिन किसी भी प्रकार की हिंसा न करने की सलाह दी जाती है।
5. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है।
6. अपरा एकादशी के दिन सुबह जल्दी उठकर भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करें।
7. इस दिन पीपल के पेड़ के नीचे दीपक जलाएं। ऐसे में भगवान विष्णु का आशीर्वाद पाने के लिए पेड़ के नीचे घी का दीपक जरूर जलाएं।
8. इस एकादशी के दिन भगवान विष्णु के साथ माता लक्ष्मी की पूजा करने से दोनों का ही आशीर्वाद मिलता है और आपके घर में कभी धन की कमी नहीं होती है।
9. अपरा एकादशी के दिन भगवान विष्णु को दक्षिणवर्ती शंख से गाय के दूध से अभिषेक करें। ऐसा करने से आप पर भगवान विष्णु की विशेष कृपा होगी।
10. अपरा एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पूजा करते समय श्री विष्णु जी का मंत्र ‘ओम नमो: भगवते वासुदेवाय’ का जप अवश्य करना चाहिए और साथ ही श्री विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का पाठ भी करना चाहिए।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

करीना कपूर, रणबीर कपूर, करण जौहर बॉलीवुड की ‘गॉसिप गर्ल्स’ हैं, अनन्या पांडे का खुलासा

जैसे की हम सभी जानते हैं की देश मैं अभी कोरोना काल चल रहा है इस कोरोना काल के...

अर्जुन कपूर हेरा फेरी में रणवीर सिंह के साथ अभिनय करना चाहते हैं

आपको तो पता होगा की रणबीर सिंह और अर्जुन कपूर बॉलीवुड मैं बोहोत अच्छे दोस्त माने जाते हैं। इस भाग-दौड़ भरी और व्यस्त ज़िन्दगी...

मुजफ्फरपुर स्टेशन के जिस बच्चे का वीडियो वायरल हुआ था, शाहरुख करेंगे उसकी मदद

जैसे की हम सभी जानते हैं की इस समय पूरा देश कोरोना नामक वैश्विक बीमारी से जूझ रहा है और वहीँ दूसरी और कई...

Happy Marriage Anniversary अमिताभ ने खोला राज बोले, इसलिए करनी पड़ी थी फटाफट शादी

  Happy Marriage Anniversary : सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की शादी को 47 साल पूरे हो गए हैं । 3 जून 1973 को...

आदेश गुप्ता के गुरसाहयगंज से दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष तक के सफर की यह है पूरी कहानी

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी आखिर व्यापारी वर्ग के रीड कहे जाने वाले दिल्ली के पूर्व महापौर आदेश गुप्ता...
- Advertisement -