जेटली और सीतारमण ने ऑफसेट साझेदार पर झूठे बयान दिये : जयपाल रेड्डी

0
63

नई दिल्ली ।  कांग्रेस ने शनिवार को आरोप लगाया कि केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली और निर्मला सीतारमण ने राफेल सौदे को लेकर ‘झूठे बयान दिये और उसने मांग की कि दोनों अपने पद से इस्तीफा दें।  विपक्षी दल ने ऐसे समय में इन मंत्रियों पर निशाना साधा है जब एक दिन पहले ही फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के हवाले से फ्रांस के एक मीडिया संगठन ने खबर दी कि भारत सरकार ने ही अरबों डॉलर के राफेल जेट सौदे में दसाल्ट एविएशन के साझेदार के तौर पर अनिल अंबानी की रिलायंस डिफेंस के नाम का प्रस्ताव रखा था तथा फ्रांस के पास कोई विकल्प नहीं था। कांग्रेस प्रवक्ता एस जयपाल रेड्डी ने कहा,श्री अरुण जेटली और श्रीमती निर्मला सीतारमण, दोनों ने सदन और उसके बाहर कहा कि उन्हें इस संबंध में जानकारी नहीं है, भारत सरकार को नहीं मालूम है। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति (फ्रांस्वा ओलांद) के बयान से यह गलत साबित हुआ।   उन्होंने आरोप लगाया कि मंत्रियों ने इस मुद्दे पर देश को गुमराह किया।  रेड्डी ने कहा कि ‘अतएव मैं मांग करता हूं कि अनिल की कंपनी को चुने जाने में सरकार की भूमिका के संबंध में प्रधानमंत्री के दबाव में दोनों मंत्रियों ने झूठे बयान दिये, इसलिए उन्हें तत्काल इस्तीफा देना चाहिए।

और पढ़ें:   किसी भी संकट से निपटने के लिए भारत तैयार, खाड़ी क्षेत्र में तैनात किए युद्धपोत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here