पाकिस्तान से आए शराणार्थियों की दास्तां सुन कांप उठता है कलेजा

Must Read

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे।...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली । पाकिस्तान से आए शराणार्थियों को नागरिकता दिए जाने के मामले को लेकर सियासी दलों ने जब हिंसा को हवा दी तो देश जल उठा, लेकिन वास्तव में क्या उन शराणार्थियों की दास्तां सुनने और समझने की भी इन दलों ने कोशिश की है। अगर हां तो उन्हें यह बात भी समझ आनी चाहिए कि यह वहीं लोग हैं, जिन्हें न हिन्दुस्तान अपना रहा है और न ही पाकिस्तान अपना रहा है। अब यह जाएं तो कहां जाएं, एक तरफ भारत नागरिकता देने को तैयार नहीं है दूसरी तरफ पाकिस्तान में इन्हें हिन्दुस्तानी कहकर दुत्कारा जा रहा है।
ऐसे में जब केंद्र की मोदी सरकार ने इन लोगों के लिए नागरिकता संशोधन कानून बनाया तो उन्हें ऐसा लग रहा है, जैसे भगवान ने उनके लिए जन्नत के दरवाजे खोल दिए हैं। सात साल पहले पाकिस्तान में अपना घर, नौकरी व रिश्तेदारों को छोड़कर हिंदुस्तान आए सैकड़ों परिवारों का दर्द कम तो हुआ है, लेकिन अब भी खत्म नहीं हुआ। वे दुखी हैं कि वहां उन्हें पाकिस्तानी की बजाय हिंदू मानकर प्रताडि़त किया गया। अब हंिदूुस्तान आए हैं तो उन्हें हंिदूू की बजाय पाकिस्तानी कहा जाता है। हालांकि, केंद्र सरकार के नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) से वे काफी खुश हैं। 75 वर्षीय देवराज माहेश्वरी व रामजी भाई माहेश्वरी बताते हैं कि पाकिस्तान में हिंदुओं के साथ बहुत घटिया बर्ताव किया जाता है। किशोरियों व युवतियों को मदरसों से जुड़े लड़के उठा ले जाते हैं। कुछ दिनों बाद आकर बता देते हैं कि लड़की ने इस्लाम कुबूल करते हुए शादी कर ली है। विगत कुछ वर्षो में सात हजार से ज्यादा हंिदूू लड़कियों के अपहरण हुए हैं। कोई लड़की अदालत में हिम्मत जुटाकर इस्लाम कुबूल न करने की बात कह भी दे तो उसे दारूल ए उलूम भेजकर प्रताडि़त किया जाता है। यही नहीं, वहां सामूहिक धर्म परिवर्तन भी कराया जाता है। सरकार, पुलिस, सेना व कट्टरपंथी संगठनों ने मिलकर अल्पसंख्यकों का जीना हराम कर दिया है। सिंध में पत्रकार रहे डॉ. प्रताप राय गोयल व डॉ. भगीरथ दाफडा बताते हैं कि पाकिस्तानी सरकार ने कुछ साल पहले तौहीन ए रिसालत कानून बनाया। इसके बाद हिंदुओं पर अत्याचार बढ़ गए। पंजाब के गवर्नर सलमान तासीर ने जब इसे काला कानून बताया तो उनके बॉडीगार्ड ने उनकी हत्या कर दी थी।माहेश्वरी वणकर समुदाय के सैकड़ों परिवार गुजरात के अहमदाबाद में रह रहे हैं। नागरिकता संशोधन कानून के बाद उन्हें भारत की नागरिकता की आस बंधी है। समाज के लोगों ने सोमवार को बैठक करके पीएम नरेंद्र मोदी का आभार जताया। साथ ही कहा कि पीएम मोदी उनके लिए भगवान से कम नहीं हैं। भाजपा सांसद डॉ. किरीट सोलंकी ने उन परिवारों से मुलाकात की और कहा कि उनके रहते किसी को भी गुजरात में परेशानी नहीं होगी। जल्द ही उन्हें नागरिकता भी मिलेगी

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे। यह सुविधा अगले सप्ताह से...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की के पिता ने ही दोनों...

सतपुली कॉलेज से हुआ National Webinar, देशभर के लोगों ने रखे विचार

पौड़ी-गढ़वाल-राजकीय महाविद्यालय सतपुली तथा विद्या अभिकल्पन मनोवैज्ञानिक शोध संस्था हल्द्वानी के संयुक्त तत्वावधान में एक राष्ट्रीय वेबिनार PROBLEMS FACING BY ADOLESCENTS DURING COVID-19 विषय...

नाला खुदाई के दौरान मिला 3 साल पहले MISSING युवक का कंकाल, AADHAR से हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के किशनी में उस वक्त सनसनी मच गई जब नाला निर्माण के लिए चल रही खुदाई के दौरान उसमें...
- Advertisement -