पुलिस कर्मी की पिटाई के बाद इंसाफ मांगने के लिए सड़क पर उतरी दिल्ली पुलिस

0
103

नई दिल्ली : तीस हजारी कोर्ट में हुए विवाद के बाद दिल्ली पुलिस और अधिवक्ता एक बार फिर आमने सामने आ गए हैं। सोमवार को हड़ताल के दौरान पुलिसकर्मी को पीटने के विरोध में दिल्ली पुलिस के जवानों और उनके परिजनों ने मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन कर इंसाफ मांगा। उनका कहना था कि क्या दिल्ली पुलिस के जवानों का कोई मानवाधिकार नहीं है और क्या उनको बेवजह इस तरह सड़क पर बुरी तरह पीटने वाले अधिवक्ताओं पर कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। पुलिस कर्मी आरोपित अधिवक्ता की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे।
यहां बता दें कि सोमवार को हाई कोर्ट, तीस हजारी, कड़कडड़ूमा और साकेत अदालत में हड़ताल का पूरा असर दिखा। राउज एवेन्यू और पटियाला हाउस में भी हड़ताल के चलते काम प्रभावित हुआ। सुप्रीम कोर्ट में वकील बाजू पर सफेद बिल्ला पहनकर पहुंचे। हड़ताल के दौरान वकीलों ने सड़क पर प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिसकर्मी और आम जनता से मारपीट की घटनाएं भी सामने आईं। वहीं, कवरेज को पहुंचे मीडिया कर्मियों से भी बदसुलूकी की गई थी। इसके विरोध में मंगलवार की सुबह ही दिल्ली पुलिस के जवान और उनके परिजनों ने मुख्यालय पहुंंचकर धरना प्रदर्शन किया।

उनका कहना था कि वकील अदालत की आड़ में मनमानी पर उतर आए हैं। उनकी दबंगई का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हड़ताल के दौरान वकीलों ने मीडियाकर्मी और आम जनता को भी नहीं बख्शा और उनके साथ ही बदसुलूकी की गई।

और पढ़ें:   नागरिकता कानून पर दिल्ली और उत्तर प्रदेश में हिंसा, पथराव कर फूंके गए वाहन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here