Bigg Boss 13 Day 68 highlights: मास्टर माइंड ने किया खेल, इस सप्ताह बनने जा रहा है कप्तान

Must Read

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे।...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

इंटरटेनमेंट डेस्क । देश का सबसे ज्यादा देखे जाने वाले रियलटी शो बिग बॉस में आते ही मास्टर माइंड ने पास ही पलट दिया है, जी हां इस सप्ताह मास्टर माइंड विकास गुप्ता घर के नए कप्तान बन गए हैं। वहीं दूसरी तरफ पारस छाबड़ा को एक बार फिर घर में प्रवेश मिल गया है। पारस एक गुप्त कमरे में छिपकर घर के सभी मेहमानों की गतिविधियों पर नजर भी रख रहा है।
कप्तानी को लेकर बिग बॉस में चल रही खींचतान इस हफ्ते भी जारी रहेगी। पारस जो कि अब तक प्रभारी के तौर पर यह काम देा रहे थे, उन्होंने विशाल से सवाल करने के लिए रश्मि से कहा, ताकि नहीवह अपनी रणनीति में सफल हो सके और दोनों के बीच दूरियां पैदा कर सके। यही नहीं उसने सभी गृहणियों को भी रसोई घर साफ करने के लिए कहा, बाद में रश्मि को बाथरूम में मिट्टी डालने के लिए कहा गया।
इसके बाद बिग बॉस ने घोषणा की कि पारस को घर में फिर से प्रवेश दिया जाएगा। हालांकि तबीयत खराब होने के बाद सिद्धार्थ को घर के अंदर वापस आने से मना कर दिया गया था। इधर पारस ने घर में पहुंते ही रश्मि से कहा कि अरहान ने 2015 में उसकी वित्तीय स्थिति के बारे में पीठ के पीछे शेफाली जरीवाला से चर्चा की थी। वहीं यह भी कहा कि अरहान की पहली शादी से एक बच्चा था जिसे उसने रश्मि से छिपाया था। अरहान ने शेफाली से कहा था कि रश्मि अपने करियर में एक समय में दिवालिया थी, और वह अरहान था जिसने उसकी मदद की थी। हालांकि, रश्मि ने अरहान का बचाव करते हुए कहा कठिन समय के दौरान वास्तव में उसने उनकी बहुत मदद की थी।प्रतियोगियों को चुनने की शक्ति दी गई थी, और उन्होंने शेफाली बग्गा, शहनाज़ गिल, रश्मि देसाई, असीम रियाज़ और शेफाली जऱीवाला को चुना, क्योंकि उन्होंने कार्य के दौरान उनकी मदद की।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे। यह सुविधा अगले सप्ताह से...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की के पिता ने ही दोनों...

सतपुली कॉलेज से हुआ National Webinar, देशभर के लोगों ने रखे विचार

पौड़ी-गढ़वाल-राजकीय महाविद्यालय सतपुली तथा विद्या अभिकल्पन मनोवैज्ञानिक शोध संस्था हल्द्वानी के संयुक्त तत्वावधान में एक राष्ट्रीय वेबिनार PROBLEMS FACING BY ADOLESCENTS DURING COVID-19 विषय...

नाला खुदाई के दौरान मिला 3 साल पहले MISSING युवक का कंकाल, AADHAR से हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के किशनी में उस वक्त सनसनी मच गई जब नाला निर्माण के लिए चल रही खुदाई के दौरान उसमें...
- Advertisement -