फिल्म छपाक को लेकर निर्माता मेघना गुलजार ने दीपिका पर की ये टिप्पणी

Must Read

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे।...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की...
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

इंटरटेनमेंट डेस्क । फिल्म छपाक में मिल रही शानदार समीक्षा से फिल्म निर्माता मेघना गुलजार गदगद हैं। दीपिका पादुकोण और विक्रांत मैसी अभिनीत यह फिल्म वास्तविक जीवन के एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल पर आधारित है। इसमें दीपिका ने शानदार अभिनय किया है। वहीं लोग विक्रांत के चरित्र और संवेदनशील नजरिये की भी सराहना कर रहे हैं। इस फिल्म में उन्होंने शानदार तरीके से इसे दर्शाया भी है। हाल ही में एक साक्षात्कार मे मेघना ने कहा कि आलोक दीक्षित (लक्ष्मी के साथी) पर आधारित चरित्र, केवल पुरुषों को संदेश देने के इरादे से ही नहीं जोड़ा गया था। विक्रांत के चरित्र को एक संवेदनशील और मजबूत व्यक्ति के रूप में दिखाया गया है, जो दीपिका के चरित्र का समर्थन करता है। क्योंकि वह एसिड की बिक्री के खिलाफ लंबी और कड़ी लड़ाई लड़ता है। दोनों कलाकारों ने फिल्म में बेहतरीन अभिनय किया है।
मेघना ने यह भी कहा कि वह कभी भी अपने पात्रों को अपने लिंग के माध्यम से नहीं देखती हैं, और यह कि लोग सामान्य स्तर पर मानवता से बात करते हैं। लिंग के मुद्दों को स्वयं सुलझा लेंगे। विक्रांत के चरित्र के बारे में विस्तार से बताते हुए, उन्होंने कहा कि वे इसके लिए कहानी पर भारी पड़े और साथ ही वास्तविक जीवन के संदर्भ भी थे। वह नहीं चाहती थी कि विक्रांत उन चीजों को करे, जो आमतौर पर एक विशिष्ट बड़े-से-बड़े नायक के साथ होती है, बल्कि उसे एक संवेदनशील और सहयोगी के रूप में रखती है। यहां बता दें कि कुछ विवादों में घिरने के बावजूद यह फिल्म सिनेमाघरों में शानदार प्रदर्शन करते हुए लगातार अजय देवगन की तानाजी को टक्कर दे रही है। तीन दिन में ही बॉक्स आफिस पर इस फिल्म का कलेक्शन करीब 12 करोड़ हो गया है। जानकारों के मुताबिक इस सप्ताह के खत्म होने तक फिल्म 20 करोड़ रुपये से ज्यादा की कमाई कर सकती है।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

क्या पत्रकारिता दिवस मनाना औचित्य मात्र रह गया है…..

हर साल 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाया जाता है l जिसका मुख्य उद्देश्य समाज को पत्रकारिता के मूल...

यूपी सरकार ने आम की होम डिलीवरी की शुरू की व्यवस्था, अब घर बैठे उठाएं आम का लुत्फ

प्रदेश में भी अब ऑनलाइन बुक कर बागों से सीधे डोर स्टेप पर आप ताजे रसीले आम मंगा सकेंगे। यह सुविधा अगले सप्ताह से...

Love story का दुखद अंत: प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी बोला मुझे भी मार दो, लड़की के बाप ने उसे भी मार दी...

  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले की पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका की मौत के मामले में सनसनीखेज खुलासा किया है। लड़की के पिता ने ही दोनों...

सतपुली कॉलेज से हुआ National Webinar, देशभर के लोगों ने रखे विचार

पौड़ी-गढ़वाल-राजकीय महाविद्यालय सतपुली तथा विद्या अभिकल्पन मनोवैज्ञानिक शोध संस्था हल्द्वानी के संयुक्त तत्वावधान में एक राष्ट्रीय वेबिनार PROBLEMS FACING BY ADOLESCENTS DURING COVID-19 विषय...

नाला खुदाई के दौरान मिला 3 साल पहले MISSING युवक का कंकाल, AADHAR से हुई पहचान

उत्तर प्रदेश के जिला मैनपुरी के किशनी में उस वक्त सनसनी मच गई जब नाला निर्माण के लिए चल रही खुदाई के दौरान उसमें...
- Advertisement -