बीमारियों से बचाने की दुआ, हुसैनी लंगर में उमड़े अकीदतमंद

0
76

बरेली। हुसैनी लंगर के साथ साबिर पाक के कुल शरीफ में बड़ी संख्या में अकीदतमंद उमड़े। नौमहिला दरगाह नासिर मियां में कार्यक्रम हुआ। लंगर के बाद नमाजे फजर कुरआन ख्वानी जौहर की नमाज हुुुई। मिलादे पाक की महफिल के साथ हुसैनी लंगर शुरू हुआ। जिसमें दूरदराज से आये अक़ीदतमन्दों को लंगर तबर्रुक तस्किम किया गया।

हुसैनी लंगर में उमड़े अकीदतमंद

 नमाजे असर मोहर्रम की 13 को अपनी तयशुदा तारीख के मुताबिक़ हज़रत साबिर पाक के कुल शरीफ की रस्म अदा की गई। खुसूसी दुआ में बीमारियों से निजात, बीमारों को शिफाअत, अमनों अमान, बेरोजगारों को रोजगार के साथ साथ तमाम परेशानियों से निजात के लिये दुआ की गई। कुल शरीफ़ में खासतौर से सूफी वसीम मियां साबरी, पम्मी वारसी, कमाल मियां साबरी, सूफ़ी माहिर मियां साबरी, रिजवान बरकाती, सैय्यद फुरकान क़ादरी, मोहसिन इरशाद, दिलशाद साबरी, मो अराज पप्पू, अतीक साबरी, सूफ़ी रिजवान, हाजी यासीन क़ुरैशी, फहीम साबरी, अतीक साबरी, महमूद साबरी, मो हनीफ़, शाहिद रज़ा नूरी, अनीस पेंटर, मो रियाज़, हाजी साकिब रज़ा खान, हाजी ताहिर, हाजी अब्दुल लतीफ क़ुरैशी, मो अखलाक, नईम अहमद, रिज़वान साबरी, तस्लीम साबरी आदि सहित बड़ी तादात में लोग शामिल रहे।

और पढ़ें:   केंद्र की जनकल्याणकारी योजनाओं का करें प्रचार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here